• Phone: 09450055697
  • Email : info@npneotani.in
  •    Jul / 02 / 2015 Thu 03:48:21 PM
  • slider_1
  • slider_2
  • slider_3
  • slider_4
  • slider_5
  • slider_6
  • slider_7
  • slider_8
  • slider_9

अपील

नगर को स्वछ रखने में सहयोग करें

नगर पंचायत में कूडा सडक पर न डालें

पाच साल तक के बच्चो को पालियो की खुराक अवश्य पिलवाये

नगर पंचायत में पालीथिन का प्रयोग न करें

सार्वजनिक स्थानों पर धूम्रपान ना करें

नगर पंचायत में पेड लगायें व लगानें में सहयोग करें

जल ही जीवन है इसका सही प्रयोग करें

शौचालय का प्रयोग करें

विकास के लिए करो का भुगतान समय पर करें

स्पॉटलाइट्स

image

श्री योगी आदित्यनाथ

(माननीय मुख्यमंत्री)

image

श्री आशुतोष टण्डन

( माननीय नगर विकास मंत्री )

image

श्री महेश गुप्ता

(माननीय राज्य नगर विकास मंत्री)

श्री सुनील कुमार

(अधिशासी अधिकारी)

Read More

श्री कुलदीप

(लिपिक)

Read More

श्री मनीष कुमार राठौर

(अध्यक्ष)

Read More

नगर पंचायत न्योतनी के बारे में

7577 की आबादी वाला न्योतनी नगर पंचायत, हसनगंज उप जिले भारत के राज्य उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले के हसनगंज उप जिले में स्थित दूसरी सबसे कम आबादी वाला नगर पंचायत है। न्योतनी नगर पंचायत का कुल भौगोलिक क्षेत्र 3 किमी 2 है और यह उप जिले में क्षेत्र के चौथे सबसे छोटे शहर है। शहर की जनसंख्या घनत्व 2526 व्यक्ति प्रति किमी 2 है। शहर में 10 वार्ड हैं, उनमें से न्योतनी वार्ड नं। 03 सबसे अधिक आबादी वाले वार्ड हैं, जो 837 की आबादी है और न्योतनी वार्ड संख्या 04 628 की आबादी वाले कम से कम आबादी वाला वार्ड है।.

निकटतम रेलवे स्टेशन जैतिपुर है जो यहां से 15 किमी दूर है। हसनगंज उप जिला मुख्यालय है और शहर से दूरी 3 किमी है। शहर के जिला मुख्यालय उन्नाव है जो 45 किमी दूर है। लखनऊ शहर का राज्य मुख्यालय है और यहां से 30 किमी दूर है। शहर की वार्षिक औसत वर्षा 852 मिमी है। अधिकतम तापमान 44.6 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाता है और न्यूनतम तापमान 4 डिग्री सेल्सियस तक चला जाता है।

आगे पढ़े

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार ने शहरी भारत को रहन-सहन, परिवहन और अन्य अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस करने के इरादे से तीन महत्वाकांक्षी योजनाओं- स्मार्ट सिटीज, ...

स्वच्छ भारत अभियान भारत सरकार द्वारा चलायी गयी एक स्वच्छता मिशन है। यह अभियान 2 अक्टूबर 2014 को महात्मा गांधी की 145 वें जन्मदिन के अवसर पर भारत सरकार की ओर से आधिकारिक तौर पर शुरू किया गया था|

फोटो गैलरी